Tuesday, February 7, 2017

निजी अलाव चौराहे पर न जलायें

मित्रो !
  चौराहे (Public place) पर निजी अलाव (bonfire) जलाने वालों को यह समझना चाहिए कि चौराहे से गुजरने वाला कोई भी व्यक्ति अलाव में हाथ सेकने के लिए लालायित हो सकता है। मेरा मानना है कि नितांत निजी प्रयोग के लिए जलाये जाने वाले अलाव आम चौराहों (सार्वजनिक स्थानों) पर नहीं जलाये जाने चाहिए।

(A hidden message for betterment of society)


Post a Comment