Tuesday, February 7, 2017

कीमती सामानों की नुमाइश


मित्रो !
कीमती सामान की नुमाइश करने वालों को यह समझ लेना चाहिए कि कद्रदानों में अच्छे और बुरे दोनों तरह के लोग होते हैं। ऐसे में उन्हें कीमती सामान की या तो खुले आम नुमाइश नहीं करनी चाहिए या नुमाइश करने से पहले बुरे लोगो से सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम कर लेने चाहिए।
(A hidden message for betterment of society)

Post a Comment